“बिहार में बहार हो, नीतिशे कुमार हो,” प्रशांत किशोर जनता दल (यू) में

पटना:

चुनाव के दौरान रणनीति बनाने के नाम से मशहूर प्रशांत किशोर ने रविवार को बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के जनता दल (यू) का दामन थाम लिया.

अब राजनीतिक गलियारे में अनुमान यह लगाया जा रहा है कि प्रशांत किशोर 2019 के लोक सभा में जनता दल(यू) के टिकट पर बिहार के बक्सर से चुनाव लड़ सकते हैं. जानकारी के अनुसार यह उनका गृह क्षेत्र भी है.

बिहार की जनता ने प्रशांत किशोर के उस नारे “बिहार में बहार हो-नीतिशे कुमार हो” को नहीं भूली होगी जिसे उन्होंने 2015 के बिहार विधानसभा चुनाव में नीतीश कुमार के लिए बनाया था.

उस समय एनडीए और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से दूर हटकर नीतीश ने राष्ट्रीय जनता दल और कांग्रेस के साथ मिलकर बिहार में एक महागठबंधन तैयार किया था, जिसमें लालू यादव का नीतीश को पूर्ण सामर्थान था.

चुनाव में नीतीश के समर्थन में एक माहौल बनाने के लिए प्रशांत किशोर ने “बिहार में बहार हो, नीतिशे कुमार हो” का ठेठ बिहारी नारा दिया जो लोगों की जुबान पर आ और नीतीश फिर से सत्ता में आ गए.

सूत्रों के अनुसार प्रशांत किशोर ने 2014 के लोक सभा चुनाव में भारतीय जनता पार्टी की अगुआई में लड़ रही एनडीए के लिए चुनावी गणित तैयार किया था.

अब नीतीश जब फिर से भाजपा के समर्थन से बिहार में सरकार चला रहे हैं तो प्रशांत किशोर का उनके साथ आना यह मायने रखता है कि अब वह नीतीश को लालू और कांग्रेस के समर्थकों से बिहार में कैसे बचा सकते हैं.

जनता दल की रविवार को पटना में जो बैठक हुई इसके एक दिन पहले प्रशांत किशोर ने सोशल मीडिया के जरिये इशारा कर दिया था कि वे राजनीति में आ रहे हैं. उन्होंने नीतीश के सामने ही पार्टी को ज्वाइन किया.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *