प्रधानमंत्री मोदी ने मंत्री लुईस के खिलाफ लिया संज्ञान, मामला दुमका के पेट्रोल पंप पर कब्जा का

दुमका:
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के कार्यालय ने इस बात का संज्ञान लिया है कि झारखण्ड की रघुबर दास सरकार में कल्याण मंत्री लुईस मरांडी ने अपने विधान सभा क्षेत्र दुमका में एक महिला द्रोपदी देवी दारूका के पेट्रोल पंप को ही दुमका जिला प्रशासन की मदद से हड़प लिया.
यह पेट्रोल पम्प हिंदुस्तान पेट्रोलियम कारपोरेशन का है जो द्रोपदी देवी दारुका की जमीन पर दुमका टाउन पुलिस स्टेशन के ठीक पास में बसा है.
मामला कुछ पेंचीदा है. पेट्रोल पंप और एच पी सी एल के बीच कुछ विवाद था जिसका फायदा उठाकर मंत्री लुईस मरांडी ने इस पेट्रोल पम्प को हडपा. हलाकि लुईस का कहना है कि यह पम्प उक्त कंपनी ने उन्हें दिलाया है. इसमें उनका कोई दोष नहीं है. कंपनी ने खाली कराया.
पिछले कुछ दिनों से पेट्रोल पम्प बंद था. द्रोपदी दारुका ने प्रधानमंत्री को जो पत्र 4 अक्टूबर को लिखा है उसके अनुसार यह मामला 2012 से एस डी ओ कोर्ट में लंबित है. फिर जब मामला कोर्ट में है तो दुमका जिला प्रशासन में लुईस मरांडी को रातों रात द्रोपदी दारुका की जमीन पर बने पेट्रोल पम्प पर कब्जा कैसे दिला दिया, इसी का तो न्याय वह प्रधानमंत्री से मांग रही है.
जानकारी के अनुसार भाजपा की राजनीति में आकर लुईस ने दुमका के शिकारीपाड़ा में 2006 में एक पेट्रोल पम्प खोला जो उन्हें शिक्षित बेरोजगार महिला के रूप में अर्जुन मुंडा के काल में मिला था. फिर सन 2008 में वह सिदो कान्हू यूनिवर्सिटी में कमीशन से संथाली भाषा की व्याख्याता बनी. इसके बाद से उनपर आरोप है कि वे दोहरा लाभ उठाती रही हैं. फिर 2014 में दुमका से चुनाव जीतकर पहली बार मंत्री बन गयी.
कुछ दिनों पहले जामताड़ा जिले की एक महिला ने भी प्रधानमंत्री से शिकायत की थी ही उनकी जमीन पर मंत्री लुईस मरांडी ने जबरन पेट्रोल पम्प खोल दिया.
दुमका के एक भाजपा कार्यकर्ता प्रकाश गन्धर्व ने भी सामाजिक योजनाओं में लुईस के करीबी द्वारा लूट की शिकायत प्रधानमत्री से की तो उन्हें पार्टी से निलंबित कर दिया गया.
प्रधानमंत्री मोदी और हाल ही में झारखण्ड आये पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह कहते हैं कि भाजपा का कोई भी विधायक या मंत्री गड़बड़ी नहीं करते. तो फिर यह हो क्या रहा है. मुख्यमंत्री रघुबर दास भी मोदी का ही नक़ल करते है-ना खायेंगे , ना खाने देंगे.
झारखण्ड में विपक्ष के नेता हेमंत सोरेन ने कहा कि लुईस मरांडी तो अब एक -एक कर दुमका के लोगों की सम्पति लूटते जा रही है. इसकी जांच होनी चाहिए कि मंत्री बनने के बाद उन्होंने और उनके करीबियों ने इतनी आकूत संपत्ति कैसे बना ली.
भजपा सिर्फ बिहार में लालू यादव और उनके परिवार के पीछे लगी दिखाई देती है, पर दुमका में लुईस के कारनामे पर अब जब प्रधानमंत्री ने संज्ञान लिया है तो लोगों को कुछ उम्मीद जगी है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *