भाजपा ने लिट्टीपाड़ा में खुलकर आचार संहिता का उलंघन किया: बाबूलाल

दुमका:
झारखण्ड विकास मोर्चा सुप्रीमो बाबूलाल मरांडी ने कहा कि लिट्टीपाड़ा उप-चुनाव में प्रचार की समय सीमा समाप्त होने के बावजूद भारतीय जनता पार्टी ने अपने उम्मीदवार के लिए प्रचार किया जो आचार संहिता का खुला उलंघन है.
मरांडी ने शनिवार को पत्रकारों से बातचीत में कहा कि चुनाव आयोग को इस बात को गंभीरता से लेना चाहिए कि जबकि प्रचार का समय तीन बजे ही ख़त्म हो गया था तो भजपा के बड़े नेता और उम्मीदवार सात बजे शाम तक कैसे प्रचार करते रहे.
उन्होंने कहा कि यदि मुख्यमंत्री रघुबर दास ने इस इलाके के लिए कुछ किया होता तो उन्हें एक छोटे से चुनाव के लिए लिट्टीपाड़ा में पांच दिनों तक नहीं रहना पड़ता.
बाबूलाल ने कहा कि वही हालत झारखण्ड मुक्ति मोर्चा का है. लगभग 40 वर्षों तक लगातार लिट्टीपाड़ा में राज करने के बावजूद जेएमएम ने कुछ नहीं किया. यह इस बात से साबित होता है कि वोट मांगने के लिए शिबु सोरेन और हेमंत सोरेन आज भी धरना दिया हुए हैं.
मरांडी ने दावा किया कि उनका उम्मीदवार लिट्टीपाड़ा में आश्चर्य जनक रूप से आगे जाएगा.
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा साहेबगंज में गंगा पुल के शिलान्यास पर बोलते हुए मरांडी ने कहा कि जब मैं झारखण्ड का मुख्यमंत्री था तभी मैंने इस योजना को लाया था. “यदि मैं पांच महीने और मुख्यमंत्री रह जाता तो गोविंदपुर से साहेबगंज वाली सड़क और गंगा पुल दोनों का एक साथ काम होता,” मरांडी ने दावा किया.
उन्होंने कहा कि साहेबगंज में गंगा पर पुल विकास लायेगा, लेकिन इस इलाके में बन्दगाह बनाना सफल नहीं होगा क्योंकि गंगा प्रायः सूख जाया करती है. यह योजना सिर्फ पैसे का बंदरबांट के लिया बनी है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *